आओ धरती को स्वर्ग बनाए - नरेश मेहन


 आओ धरती पर स्वर्ग बनाएं 

ढूंढ लाए कहीं से कान्हा सुदामा को

 अपना दोस्त बनाएं।

 थोड़ी सी ले ले मुस्कुराहट

 उधार में ही ढेर सारा प्यार

  ब्याज में दे दें।

 ढूंढोगे तो मिल जाएगा

 कबीर भी चलो प्रेम सा

 अटूट धागा बनाएं।

आओ

उतारे धरती पर  तुलसी का राम

 साथ में बुल्लेशाह जैसा

 सूफी संत भी बुलाएं।

 ढूंढोगे तो मिल जाएगा

नानक सा सन्त भी  आओ 

गुरु गोविंद जैसा बाज उड़ाएं ।

थार होती धरा की प्यास बुझाएं

आओ भूखी चिड़ियाओं को

अपना खेत खिलाएं ।

बादलों से बातें करें 

दरिया को आवाज लगाएं ।

फूलों व बच्चों के साथ -साथ  मुस्कुराएं 

आओ 

धरती पर स्वर्ग बनाए ढूंढ लाए कहीं से 

कान्हा सुदामा को अपना दोस्त बनाएं।

लेख प्रकाशित करवाने हेतु आवश्यक सूचना 

यदि आप अतुल्य हिन्दी ब्लाॅग परं अपना लेख प्रकाशित करवाना चाहते है तो कृपया आवश्यक रूप से निम्नवत सहयोग करें -
1- सर्वप्रथम हमारे यूट्यूब चैनल  को Subscribe करके ScreenShot WhatsApp +917062922229 पर भेज दीजिये |
2- फेसबुक पेज को फॉलो करे ताकि आपका प्रकाशित आलेख दिखाई दे सके।
3- कृपया अपना पूर्ण विवरण नाम पता फोन नंबर सहित भेजे|
4- आप अपना कोई भी लेख आदि पूरे विवरण (पूरा पता, संपर्क सूत्र) और एक पास पोर्ट साइज फोटो के साथ हमारी मेल आईड mukeshsinwar00005@gmail. com पर भेजे या यहां क्लिक करके ऑनलाईन ब्लाॅग के माध्यम से प्रेषित करें।
ध्यान दे कि लेख 500 शब्दों  से ज्यादा नहीं होना चाहिए अन्यथा मान्य नहीं होगा।

Post a Comment

कृपया लेख पर आपकी महत्वपूर्ण टिप्पणी करें ! ब्लॉग को अपने दोस्तों के साथ शेयर करे |

और नया पुराने